शनिवार को राणापुर में भगोरिया हाट लगा , इसमें ग्रामीणों की टोलियों ने खूब रंग जमाया , स्वयंसेवक संघ द्वारा पानी का प्याऊ लगाया गया ।

पवन सिसोदिया –राणापुर।आदिवासी लोक संस्कृति का पर्व भगोरिया का उत्साह दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है। शनिवार को राणापुर में भगोरिया हाट लगा। इसमें ग्रामीणों की टोलियों ने खूब रंग जमाया। भगोरिया मे शनिवार दिन के हाट बाजारों में भारी भीड़ इकट्ठा हुई है,और सभी स्थानों पर शासन की गाइड लाइन की धज्जियां उड़ाई गई है भीड़ भरे स्थानों में दो गज छोड़ कर आधा फिट की दूरी का भी पालन नही हो पा रहा है और नही अनिवार्य रूप से मास्क लगाए जाने का ही पालन किया जा रहा है. इन मेलो में दुकानों पर भी किसी तरह का एहतियात नही बरता जा रहा है। ग्रामीण लोग पारंपरिक वेषभूषा में एक जैसे परिधान पहनकर पहुंचे थे। विशेष कर युवतिया व महिलाएं सारे साज शृंगार किए हुए पारंपरिक चांदी के गहने पहनकर पहुंची। युवक कुर्राट लगाते हुए भगोरिया को पारंपरिक रुप देते नजर आए। मेले में पारंपरिक मांदल दलों की मस्ती दोपहर बाद शुरु हुई। गांवों से आए आदिवासियों ने दुकानों पर जमकर खरीदी की। गर्मी से सूखे कंठों को तर करने के लिए आईसक्रीम-बर्फ के गोले और शरबत के ठेलों पर खूब भीड रही। वहीं झूलों का आंनद उठाने की होड़ ग्रामीणों में लगी रही। युवतियों सेल्फी लेते देखी गई ।इस दौरान बांसुरी की मधुर स्वर लहरियां गुंजते ही हर किसी के पांव नृत्य करने के लिए उठने लगे। नर सेवा नारायण सेवा राणापुर भगोरिया में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा पानी का प्याऊ लगाया गया । चिंतन जी माली , विवेक जी उपाध्याय शाह , जितेंद्र गारी , राजू गारी , पत्रकार मुकेश जी वसुनिया उपस्थित थे।

Share on: